टिहरी

टिहरी बीडीसी बैठक में समाज कल्याण कृषि भूमि से संबंधित मुद्दे छाए रहे बैठक में प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने समस्या को गंभीरता से लिया अधिकारियों को दिए निर्देश प्राथमिकता के आधार पर जन समस्याओं का करे निदान

टिहरी बीडीसी बैठक में समाज कल्याण कृषि भूमि से संबंधित मुद्दे छाए रहे बैठक में प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने समस्या को गंभीरता से लिया अधिकारियों को दिए निर्देश प्राथमिकता के आधार पर जन समस्याओं का करे निदान

टिहरी
नरेंद्रनगर के ब्लॉक मुख्यालय फकोट में आयोजित बीडीसी की बैठक में आलवेदर सड़क निर्माण से उपजी समस्याओं, पीडब्ल्यूडी व पीएमजीएसवाई की सड़कों सहित लिंक रोड की बुरी हालातों के अलावा बिजली, पानी, शिक्षा, नेटवर्क, समाज कल्याण और कृषि विभाग से संबंधित मुद्दे छाए रहे,
प्रधान संगठन के प्रदेश प्रवक्ता आशीष रणाकोटी,प्रधान राजेंद्र नेगी व किशोर कंडारी ने क्षेत्र के अनेकों मुद्दे उठाते हुए निराकरण की मांग की है,
बैठक में मौजूद प्रदेश के वन मंत्री सुबोध उनियाल ने समस्याओं को गंभीरता से लिया और बैठक में मौजूद अधिकारियों को निर्देशित किया कि प्राथमिकता के आधार पर वे जन समस्याओं का निदान करें,
देवप्रयाग क्षेत्र के विद्युत सब स्टेशन से जुड़ी विद्युत कनेक्शन से संबंधित उपभोक्ताओं ने विद्युत से संबंधित अनेकों शिकायतें की, मगर देवप्रयाग विद्युत विभाग का कोई भी अधिकारी बैठक में उपस्थित न होने पर मंत्री सुबोध उनियाल ने गहरी नाराजगी व्यक्त की और इस पर कार्यवाही की बात की।
सदन में क्षेत्र की
अधिकांश समस्याओं पर सदन के सदस्यों ने इस बात पर गहरी नाराजगी प्रकट की है कि जिन गंभीर समस्याओं को निपटाने की मांग करते हुए सदन में एक बार जिक्र किया जाता है, दूसरी बार भी सदन में वही मामले उठते हैं, यह इसलिए होता है क्योंकि समस्याओं का निदान नहीं होता,
सदस्यों ने मांग की है कि क्षेत्र के प्रतिनिधि जिन समस्याओं को हल करने के लिए सदन में उठाते हैं, अगली बैठक में उनका निदान सामने आना चाहिए।
वन मंत्री सुबोध उनियाल ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे प्राथमिकता के आधार पर जन समस्याओं का समाधान करें, शिथिलता बरतने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
बैठक में ब्लॉक प्रमुख राजेंद्र सिंह भडारवी, लोक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता आशुतोष, खंड विकास अधिकारी श्रुति वत्स, जिला पंचायत राज अधिकारी मुस्तफा खान, समाज कल्याण अधिकारी किशन सिंह चौहान, मुख्य कृषि अधिकारी अभिलाषा भट्ट आदि प्रमुख रूप से थे।

Related Articles

error: Content is protected !!
Close